Pashu bima yojana
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Pashu bima yojana नंदिनी कृषक समृद्ध योजना के तहत देसी गायों का वितरण देश में दुग्ध उत्पादन बढ़ाने एवं श्वेत क्रांति लाने के लिए सरकार द्वारा कई योजनाएँ चलाई जा रही हैं। इस कड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में श्वेत क्रांति लाने और दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के लिए नंदिनी कृषक समृद्ध योजना शुरू करने का प्रस्ताव रखा है। योजना के तहत पशुपालकों एवं किसानों को 25 स्वदेशी उन्नत नस्ल की गाये दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश के पशुधन एवं दुग्ध विकास मंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने कहा है कि नंद बाबा दुग्ध मिशन के तहत उत्तर प्रदेश में श्वेत क्रांति लायी जाएगी। Pashu bima yojana इसके लिए “नंदिनी कृषक समृद्ध योजना” प्रारंभ करने का प्रस्ताव किया जा रहा है। यह बात उन्होंने विधान भवन स्थित कार्यालय में कृत्रिम गर्भाधान और दुग्ध उत्पादन कार्यक्रम पर समीक्षा करते हुए कही।

Pashu bima yojana

योजना का लाभ लेने के लीये यहा क्लिक करे

किसानों को दी जायेगी स्वदेशी नस्ल की 25 गाय

पशुधन एवं दुग्ध विकास मंत्री मंत्री ने नंदिनी कृषक समृद्ध योजना Nandini Krishak Bima Yojana के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि योजना के तहत पशुपालकों एवं कृषकों को 25 स्वदेशी उन्नतशील नस्ल की गाय उपलब्ध करायी जायेंगी। जिससे दुग्ध उत्पादन में बढ़ोतरी होगी और श्वेत क्रांति की परिकल्पना साकार होगी। नंदिनी कृषि समृद्ध योजना से गौवंशीय देशी नस्ल को बढ़ावा मिलेगा और कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश में कृषकों और पशुपालकों को आर्थिक रूप से समृद्ध बनाने और दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र मिल का पत्थर साबित होगी।

दुग्ध विकास मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि नंद बाबा मिशन के कार्यों को सुचारू रूप से किया जाए और “क्वालिटी मिल्क फॉर ऑल” पर विशेष ध्यान दिया जाये और पराग के उत्पादनों की ब्रांडिंग और मार्केटिंग पर विशेष ध्यान दिया जाए।

Pashu bima online

मिनी ट्रैक्टर के लिए 3 लाख की सब्सिडी, हर साल 50 स्वयं सहायता समूहों का चयन

Pashu bima yojana लम्पी रोग की रोकथाम के लिए दिये निर्देश समीक्षा बैठक में मंत्री श्री धर्मपाल सिंह ने राज्य में लम्पी रोग से संक्रमित पशुओं को तत्काल वैक्सीनेशन एवं अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने की तथा किसी भी दशा में संक्रमण फैलने न पाए और रोग के बचाव एवं रोकथाम के सभी उपाय करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ल्म्पी रोग की संभावना को देखते हुए प्रदेश स्तर पर लम्पी रोग के मानिटरिंग हेतु नोडल अधिकारी नामित किये जाए और उसके द्वारा नियमित रूप से अनुश्रवण किया जाए। इसके अलावा लम्पी रोग की रोकथाम के लिए कंट्रोल रूम की स्थापना के भी निर्देश दिए हैं।

गला घोंटू रोग की रोकथाम के लिए दिये निर्देश Pashu bima yojana

पशुपालन मंत्री ने पशुधन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि गलाघोंटू टीकाकरण अभियान में तेजी लायी जाये। यह ध्यान दिया जाए कि किसी भी संक्रामक रोग के कारण पशुधन की हानि न हो। इसके अतिरिक्त वर्षा ऋतु के दृष्टिगत गोआश्रय स्थलों में चारे, भूसे, प्रकाश, टीनशेड, चिकित्सीय सुविधा एवं पेयजल आदि की पर्याप्त व्यवस्था की जाए।

Agrostarnews

मुर्गी पालन के लिए SBI देता है इतने लाख तक का लोन, जानें अप्लाई करने का प्रोसेस

Pashu bima yojana बैठक में पशुधन एवं दुग्ध विकास के अपर मुख्य सचिव डॉ रजनीश दुबे ने मंत्रीजी को अवगत कराया कि लम्पी स्किन डीजीज के लिये विशेष रूप से नई वैक्सीन तैयार की गई है, जिसका ट्रायल पायलट प्रोजेक्ट के रूप में जनपद बलरामपुर, गोरखपुर और मथुरा में किया जा रहा है। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि पशुचिकित्सा अधिकारी ब्लॉक स्तर पर जाकर कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रमों के संचालन में सहयोग करें और विभिन्न योजनाओं के लक्ष्यों को शीघ्र ही पूरा करें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!