Google Pay recharge code quiz :PhonePe, Google Pay का काम खत्म? दुकानों पर दिखाई देगा Razor Pay, Cashfree
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Google Pay recharge code quiz :Google Pay और Phonepe का इस्तेमाल तो हर कोई करता है। साथ ही इन कंपनियों ने काफी ग्रो भी किया है। लेकिन अब इन दोनों के लिए मुसीबत खड़ी हो सकती है क्योंकि RBI ने Razor Pay और Cash Free को राहत दे दी है। दरअसल RBI ने दोनों कंपनियों के पेमेंट एग्रीगेटर लाइसेंस (PA License) पर लगी रोक को हटा लिया है।

साथ ही, अब ये कंपनियां ऑनलाइन पेमेंट के लिए कारोबारियों के साथ टाईअप कर सकेंगी। यानी अब दुकानों पर इन कंपनियों का QR Code भी आपको नजर आएगा। जबकि पहले ऐसा बिल्कुल नहीं था। करीब 1 साल बाद आरबीआर का ये फैसला आया है। इससे अन्य कंपनियों की चिंता जरूर बढ़ सकती है। इन दोनों कंपनियों के अलावा पेटीएम, जसपे और पेयू को भी फाइनल लाइसेंस का इंतजार है। लेकिन इससे पहले आरबीआई का ये फैसला आ गया है।

Agrostarnews

आभा हेल्थ कार्ड म्हणजे काय आणि त्याचे फायदे काय आहेत?

RBI ने नए कारोबारियों को इस प्लेटफॉर्म से जोड़ने की इजाजत देने से इंकार कर दिया था। लेकिन अब फाइनली ये इजाजत भी दे दी गई है। यानी अब इन कंपनियों का इंतजार आखिरकार खत्म हो गया है। Razorpay ने इसको लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट भी शेयर की है। इसमें कंपनी ने बताया कि उन्हें भी पेमेंट एग्रीगेटर के तौर पर काम करने की इजाजत मिल गई है। यानी ये कंपनी के लिए काफी पॉजिटिव खबर है।Google Pay recharge code quiz

Agrostarnews

1 जनवरी से नहीं कर पाएंगे ऑनलाइन पेमेंट! आज ही निपटा लें ये काम

PA लाइसेंस मिलने के बाद अब ये कंपनियां किसी भी मोड का इस्तेमाल करके पेमेंट हासिल कर सकेंगी। यानी ये कंपनियां नेटबैंकिंग, यूपीआई या क्रेडिट/डेबिड कार्ट की मदद से पेमेंट कर पाएंगी। कारोबारियों और ई-कॉमर्स पलेटफॉर्म्स को अपना पेमेंट सिस्टम बनाने की कोई जरूरत नहीं है। ऐसे में दोनों कंपनियों को ये फैसला बड़ी राहत दे सकता है। Pine Labs और स्ट्राइप को ही सबसे पहले 2022 में पेमेंट एग्रीगेटर लाइसेंस मिला था। ऑडिट में महीनों लग जाते हैं, यही वजह है कि इन कंपनियों को मिलने में भी थोड़ी देरी हुई।Google Pay recharge code quiz

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!