business loan benefits पैसों की जरूरत पूरी करने का स्‍मार्ट तरीका है OD, जानिए इसके फायदे 1
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

business loan benefits इमरजेंसी की स्थिति कभी भी और किसी के भी सामने आ सकती है. आमतौर पर लोग इस स्थिति में या तो पर्सनल लोन का विकल्‍प चुनते हैं या फिर अपनी किसी एफडी वगैरह को तुड़वाकर जरूरत को पूरा करते हैं. लेकिन इमरजेंसी में पैसों की जरूरत को पूरा करने का स्‍मार्ट तरीका ओवरड्राफ्ट लोन (Overdraft Loan) भी हो सकता है. सरकारी और प्राइवेट दोनों बैंकों में ओवरड्राफ्ट लोन की सुविधा मिलती है. इसके कई फायदे हैं. यहां जानिए-

क्‍या है ओवरड्राफ्ट लोन

ओवरड्राफ्ट एक फाइनेंशियल सुविध है. इसके लिए आपको बैंक से मंजूरी लेनी होती है. अगर आपको मंजूरी मिल जाती है तो आप अपने बैंक अकाउंट से मौजूदा बैलेंस से ज्‍यादा अमाउंट भी निकाल सकते हैं. इस सुविधा को ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी और OD भी कहा जाता है. ये एक तरह का लोन होता है. ज्‍यादातर बैंक करंट अकाउंट, सैलरी अकाउंट और फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) पर ये सुविधा देते हैं. ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी के जरिए लिए गए अमाउंट को एक निश्चित अवधि के अंदर चुकाना होता है और इस पर ब्याज भी लगता है. ब्‍याज डेली बेसिस पर कैलकुलेट होता है.business loan benefits

Agrostarnews

राशन कार्ड धारकों को मिली राहत, अतिरिक्त अनाज सहित मिलेगा नए गैस कनेक्शन का लाभ

बैंक तय करते है अमाउंट की लिमिट

ओवरड्राफ्ट एक फाइनेंशियल सुविध है. इसके लिए आपको बैंक से मंजूरी लेनी होती है. अगर आपको मंजूरी मिल जाती है तो आप अपने बैंक अकाउंट से मौजूदा बैलेंस से ज्‍यादा अमाउंट भी निकाल सकते हैं. इस सुविधा को ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी और OD भी कहा जाता है. ये एक तरह का लोन होता है. ज्‍यादातर बैंक करंट अकाउंट, सैलरी अकाउंट और फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) पर ये सुविधा देते हैं. ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी के जरिए लिए गए अमाउंट को एक निश्चित अवधि के अंदर चुकाना होता है और इस पर ब्याज भी लगता है. ब्‍याज डेली बेसिस पर कैलकुलेट होता है.

बैंक तय करते है अमाउंट की लिमिट

ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी के तहत मिलने वाले अमाउंट की लिमिट क्या रहेगी, ये बैंक तय करते हैं. आमतौर पर सैलरी अकाउंट पर अगर आप ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी लेते हैं, तो आपको सैलरी की दोगुनी या तिगुनी रकम लोन के तौर पर मिल सकती है. लेकिन सैलरी अकाउंट पर ओवरड्राफ्ट की सुविधा वो ही बैंक दे सकता है, जिसमें आपका अकाउंट ओपन हो. business loan benefits

Agrostarnews

गूगल मैप्स पर बदला देश का नाम…

ओवरड्राफ्ट लोन के फायदे

OD के एक नहीं कई फायदे हैंऋ आमतौर पर जब आप पर्सनल लोन लेते हैं तो जितनी राशि का अप्रूवल मिलता है, उस पूरी राशि पर ब्‍याज कैलकुलेट किया जाता है. लेकिन ओवरड्राफ्ट लोन में ऐसा नहीं होता. इसमें बैंक से अप्रूव की हुई पूरी राशि पर ब्‍याज नहीं देना होता. business loan benefits आप अपने अकाउंट से जितना अमाउंट निकालकर यूज करते हैं, सिर्फ उतने अमाउंट पर ही आपको ब्‍याज चुकाना पड़ता है. 

उदाहरण से समझिए- अगर ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी के तहत मिलने वाले अमाउंट की लिमिट बैंक की ओर से दो लाख तय की गई है और आपने सिर्फ एक लाख रुपए ही इस्‍तेमाल किए हैं, तो ब्‍याज सिर्फ एक लाख पर ही लगेगा business loan benefits. 

Agrostarnews

मुर्गी पालन के लिए मिलेगा ₹9 लाख तक का लोन

इसके अलावा जितने समय के लिए अमाउंट आपके पास होता है, ब्‍याज भी सिर्फ उतने समय तक ही लगता है. मतलब आप जितनी जल्‍दी लोन चुकाएंगे, उतनी जल्‍दी किस्‍त के झंझट से मुक्ति पाएंगे. लोन जल्‍दी चुकाने के लिए आपको प्रीपेमेंट चार्ज वगैरह नहीं देना होता है. business loan benefits जबकि पर्सनल लोन निश्चित समय से पहले क्‍लोज नहीं कर सकते. अगर आप ऐसा करते हैं, तो आपको उसके लिए प्रीपेमेंट चार्ज देना पड़ता है. OD में आपको लोन लेने के लिए प्रोसेसिंग फीस वगैरह नहीं देनी होती. जबकि पर्सनल लोन या किसी अन्‍य लोन में प्रोसेसिंग फीस भी देनी होती है. 

कैसे उठाएं OD की सुविधा का लाभ

ओवरड्राफ्ट फैसिलिटी के लिए आपको अपनी एफडी, शेयर्स, घर, सैलरी, इंश्योरेंस पॉलिसी, बॉन्ड्स आदि को गिरवी रखना पड़ता है. अगर आप अमाउंट को नहीं चुका पाते हैं तो आपकी गिरवी रखी चीज से इसकी भरपाई की जाती है. लेकिन ओवरड्राफ्टेड अमाउंट आपके द्वारा गिरवी रखी गई चीज से ज्‍यादा है तो गिरवी रखी चीज से भरपाई करने के बाद आपको बाकी के पैसे चुकाने होंगे. business loan benefits हालांकि अगर आपके पास गिरवी रखने के लिए कुछ नहीं है, तो आप क्रेडिट कार्ड से विदड्रॉल के रूप में अनसिक्‍योर्ड ओवरड्राफ्ट सुविधा भी ले सकते हैं.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!